अर्थ हीरो : 30‌ सालों से वन्यजीव बचा रहे अनिल बिश्नोई हुए अर्थ हीरो अवार्ड से सम्मानित

 अर्थ हीरो : 30‌ सालों से वन्यजीव बचा रहे अनिल बिश्नोई हुए अर्थ हीरो अवार्ड से सम्मानित

अर्थ हीरो : 30‌ सालों से वन्यजीव बचा रहे अनिल बिश्नोई हुए अर्थ हीरो अवार्ड से सम्मानित


पीलीबंगा, 21 अक्टूबर । गांव लखासर के वन्य जीव प्रेमी अनिल बिश्नोई को नेटवेस्ट ग्रुप का अर्थ हीरो अवॉर्ड देकर सम्मानित किया है। नेटवेस्ट ग्रुप के प्रमुख सीईओ सुनील कुमार ने जानकारी देते हुए बताया की नेटवेस्ट ग्रुप के 11 वें संस्करण में अर्थ हीरो अवॉर्ड (जिसे पहले आरबीएस अर्थ हीरो अवॉर्डस के नाम से जाना जाता था) बुधवार सांय को प्रकृति सरंक्षण के एक वर्चुली कार्यक्रम में देकर सम्मान किया है।        

   

काले हिरणों के सरंक्षण के लिए अनिल बिश्नोई को मिला अर्थ हीरो अवॉर्ड    

          कार्यक्रम के मुख्य अतिथि वन्य जीवों और वनस्पतियों की लुप्त प्रायः प्रजातियों में अंतर्राष्ट्रीय व्यापार पर कन्वेंशन (सीआईटीईएस) की महासचिव सुश्री इवोन हिगुएरो ने दिया। कार्यक्रम में पुरस्कार समिति के चेयरमैन एम के रणजीत सिंह ने कार्यक्रम में सम्मिलित होते हुए कहा की जूरी ने 2021 के 'सेव द स्पीशीज' अवार्ड के विजेता के रूप में हनुमानगढ़ जिले के लखासर निवासी अनिल बिश्नोई को चुना गया है। इन्होंने जिले हनुमानगढ़ में 30 वर्षों से अधिक समय तक काला हिरण (ब्लैक बक ) और अन्य वन्य जीवों की सुरक्षा के लिए इनके द्वारा किए गए अनुकरणीय कार्य और 50 से अधिक पंचायतों को प्रभावित करके इसे पड़ोसी जिलों तक विस्तारित करने के लिए किए गए अनुकरणीय कार्यों से न केवल कई लुप्त होती जंगली प्रजातियों को बचाने में बल्कि राजस्थान के कई जिलों के नागरिकों को संरक्षण का संदेश देने में भी हुआ है ।

         ज्ञात रहे इससे पूर्व अनिल बिश्नोई को राजस्थान सरकार का प्रतिशिष्ठ अमृतादेवी पर्यावरण सरंक्षण पुरस्कार 2009 में मिला है। तथा प्रकृति सुरक्षा को समर्पित संस्था श्री जंभेश्वर पर्यावरण एवं जीव रक्षा प्रदेश संस्था के प्रदेश महामंत्री के पद पर समाज सेवा कर रहे है। इनके अवॉर्ड से स्थानीय बिश्नोई समाज में कल सांय से सोशल मीडिया में हजारों लोगों ने बधाई संदेश देते हुए खुशी जताई है ।

इसे भी पढ़ें:

0/Post a Comment/Comments

Advertisement