बेटी जन्म देते ही दुनिया से रुखसत हुई मां, आंखें देखेगी संसार

 बेटी जन्म देते ही दुनिया से रुखसत हुई मां, आंखें देखेगी संसार

बेटी जन्म देते ही दुनिया से रुखसत हुई मां, आंखें देखेगी संसार




झलको न्यूज़, जोधपुर।


एक मां बेटी को नया जीवन देकर दुनिया से रुखसत हो गई, आंखें देखेगी संसार। दरअसल एक महिला की देर रात डिलीवरी के दौरान मृत्यु हो गई। महिला ने स्वस्थ बच्ची को जन्म दिया लेकिन स्वयं अपनी बेटी को देखने से पहले ही चल बसी। इस दुखद हादसे के बाद भी महिला के परिवार ने हिम्मत नहीं हारी और उसकी दोनों आंखें दान कर दी। ताकि ये आंखें किसी नेत्रहीन को संसार दिखा सके।


शास्त्री नगर सी 102 निवासी 31 वर्षीय सुहानी चौपड़ा पत्नी विश्रुत जैन की मध्य रात्रि में डिलीवरी के पश्चात निधन हो गया। सुहानी का फूल सी बच्ची को जन्म देने के बाद देहावसान हो गया। सुहानी के नेत्रदान से दो जनों की आंखों को ज्योति मिलेगी। जोधपुर इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के अध्यक्ष एनके जैन ने अपनी पुत्रवधू के नेत्रदान के लिए काउंसलर मनोज मेहता से संपर्क कर नेत्रदान की इच्छा जताई। अखिल भारतीय तेरापंथ युवक परिषद् की शाखा परिषद् तेरापंथ युवक परिषद् सरदारपुरा ने नेत्रदान में सहयोग कराया। नेत्रदान के संभाग प्रभारी कैलाश जैन व संयोजक विकास चौपड़ा ने बताया कि परिजनों से सहमति ली गई। एएसजी आई हॉस्पिटल की आई बैंक के टीम लीडर गोपाल नाथ,तकनीशियन प्रमोद व सूरज के साथ उनके निवास पर पहुंच सुहानी चौपड़ा के दोनों कॉर्निया टीम की ओर से प्राप्त किए गए। जिन्हें दो नेत्रहीन व्यक्तियों को प्रत्यारोपित कर नेत्र ज्योति प्रदान की जाएगी।

1/Post a Comment/Comments

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement